हेल्थ
Trending

सुबह, दोपहर या शाम? इस समय दही खाने से मिलते हैं बेमिसाल फायदे,,जाने एक क्लिक में...

Curd: A treasure of health or an enemy of the night? Know the right time and method.

दही खाने से हमारी सेहत को कई फायदे होते हैं। यह हमारे डाइजेशन से लेकर इम्यूनिटी तक में मदद करता है लेकिन रात के समय दही खानी चाहिए या नहीं?

यह बहस काफी लंबे समय से चलती आ रही हैं। आज हम इस बात को लेकर कंफ्यूजन खत्म करने वाले हैं। दही खाने के सही समय और तरीके को जानने के लिए खोजी नारद का ये लेख पूरा पढ़ें।

भारतीय घरों में कई लोग रोज रात को सोने से पहले दही जमाते हैं। यह गर्म दूध में थोड़ा सा दही मिलाकर और इसे रात भर रखने से जमाया जाता है।

अगले दिन, हर कोई रोटी, चावल, दाल या सब्जी के साथ ताजा दही का आनंद लेता है। दही कई स्वास्थ्य लाभों के साथ आती है। हालाँकि, क्या रात के खाने के समय हमारी पसंदीदा दही का थीख ठीक है।

डाइजेशन की प्रॉबल्म है तो रात को न खाएं दही

रात के समय दही का खाना ठीक रहता है। हालाँकि, अगर आपको पाचन संबंधी कोई समस्या है, तो रात में दही खाने से प्रॉब्लम्स या अपच की समस्या हो सकती है।

ऐसा इसलिए है, क्योंकि यह फैट और प्रोटीन से भरपूर एक डेयरी प्रोजक्ट है, जिसे रात के समय पचाना मुश्किल हो सकता है, जब आपका डाइजेशन भी कम हो सकता है।

जाने आयुर्वेद का ये है कहना?

आयुर्वेद के अनुसार दही शरीर में कफ बढ़ा सकता है। रात के समय शरीर में कफ बनता है। इससे आपकी नाक में बलगम बन सकता है।

फिर भी, इसका प्रभाव हर इंसान पर अलग-अलग हो सकता है और यह हर किसी के लिए सही नहीं हो सकता है। अस्थमा, खांसी और सर्दी के मरीजों को रात के खाने में दही खाने से बचना चाहिए।

आइए जानिए कौनसा समय है बेस्ट ?

रात के खाने में दही खाने के बजाय, इसे खाने का सबसे अच्छा समय सुबह या दोपहर के भोजन के साथ है।

दिन के समय दही को पचाना आसान होता है। आप इसे सुबह के नाश्ते के रूप में भी खा सकते हैं, इसके ऊपर आम और केला जैसे फल भी डाल सकते हैं।

दही खाने से सेहत को मिलते हैं ये बेमिसाल फायदे

दही खाने से आपके डाइजेशन में सुधार और इम्यूनिटी में मदद मिल सकती है।

दही में कैल्शियम और प्रोटीन भी हाई मात्रा में होता है, जो हड्डियों की हेल्थ और मसल्स की ग्रोथ को बढ़ावा देता है। यह हेल्दी स्किन और बालों की हेल्थ को भी अच्छा करता है।

Related Articles

Back to top button