खोजी नारद कहिंन
Trending

गर्मियों में ये चाय पीने के हैं शौकीन? तो हो जाए सावधान!

चाय भारतीयों की फेवरेट ड्रिंक है। गर्मी हो या सर्दी चाय से ही यहां लोगों के दिन की शुरुआत होती है।

सुबह-सुबह गर्मा-गरम अदरक वाली चाय पीकर बॉडी में अलग सी एनर्जी फील होती है लेकिन सुबह दोपहर शाम हर वक्त अदरक वाली चाय पीने की आदत सेहत संबंधी कई तरह की गंभीर समस्याओं की भी वजह बन सकती है।

सुबह-सुबह चाय का एक प्याला पूरा दिन बना देता है। थकान हो, तनाव हो या एनर्जी लो लग रही हो, चाय पीकर सारी तकलीफें दूर हो जाती हैं और अगर अदरक वाली चाय मिल जाए, तो भाई क्या ही कहना।

अदरक की थोड़ी सी मात्रा चाय का स्वाद और फायदे बढ़ा देती है, लेकिन अगर आप सुबह ही नहीं, दोपहर, शाम और रात को भी अदरक वाली चाय पीते हैं, तो ये सेहत को फायदा नहीं, बल्कि नुकसान पहुंचा सकती है।

अदरक की तासीर गर्म होती है जिस वजह से गर्मियों में इसकी जरूरत से ज्यादा मात्रा बन सकती है कई परेशानियों की वजह।

गर्मियों में अदरक वाली चाय पीने के नुकसान

 पेट में जलन : अदरक में जिंजरोल नाम का एक तत्व होता है, जो वैसे तो जोड़ों और मांसपेशियों का दर्द कम करता है, लेकिन इसकी ज्यादा मात्रा पेट में एसिड पैदा करने का काम करती है, जो जलन का वजह बन सकती है।

ब्लड प्रेशर :  जिन लोगों का ब्लड प्रेशर कम रहता है उन्हें अदरक वाली चाय पीना अवॉयड करना चाहिए। इससे शरीर में एनर्जी फील होने के बजाय चक्कर और कमजोरी की शिकायत हो सकती है, वहीं हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए अदरक वाली चाय फायदेमंद मानी जाती है।

अनिद्रा : नींद न आने की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए भी अदरक वाली चाय नुकसानदायक होती है। ज्यादा अदरक वाली चाय पीने से नींद डिस्टर्ब हो सकती है। नींद की कमी पाचन के साथ मेंटल हेल्थ पर भी असर डालती है।

डायरिया :  बहुत ज्यादा अदरक वाली चाय पीने से डायरिया की प्रॉब्लम भी हो सकती है। डायरिया या दस्त शरीर को कमजोर बना देता है और गर्मियों में डायरिया की प्रॉब्लम स्थिति को और ज्यादा गंभीर बना सकता है।

 रक्तस्राव का खतरा :  ब्लीडिंग डिसऑर्डर वाले लोगों को भी अदरक का सीमित मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि इससे रक्तस्त्राव का खतरा बढ़ सकता है, खासकर उन लोगों में जो पहले से ही ब्लड थीनिंग की दवाइयां ले रहे हैं।

Related Articles

Back to top button