हेल्थ
Trending

डायबिटीज से लेकर कैंसर में फायदा देते हैं इस सब्जी के बीज,,,ऐसे खाकर दूर करें ये बीमारी,,जानिए एक क्लिक में...

Countless benefits of pumpkin seeds (Kaddu ke Beej).

इन दिनों लोगों के लिए बीच सीड्स और नट्स का चलन काफी ज्यादा बढ़ गया है। खुद को फिट और हेल्दी रखने के लिए लोग आजकल इन्हें अपनी डाइट में शामिल कर रहे हैं।

कद्दू के बीज इन्हीं में से एक है जिसे खाने के ढेरों फायदे मिलते हैं।

यह दिल को सेहतमंद बनाने के साथ ही हड्डियों की भी सुरक्षा करता है।

कद्दू के बीज एक ऐसा सुपरफूड है, जिसके अनगिनत फायदे हैं।

इसे अपनी डेली डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।

नियमित रूप से सीमित मात्रा में इसका सेवन करने से इसका लाभ उठाया जा सकता है।

ये आसानी से किसी भी ग्रोसरी स्टोर पर उपलब्ध होते हैं और इसे अपनी डाइट में शामिल करना भी बहुत आसान है।

ये दिखने में छोटे होते हैं, लेकिन कई सारे पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं।

पंपकिन सीड्स फर्टिलिटी बढ़ाने के साथ ही हार्ट का ख्याल रखते हैं और ब्लड शुगर भी कंट्रोल करते हैं।

पंपकिन सीड्स के अद्भुत फायदे-डायबिटीज के खतरे को कम करे

हाइपोग्लाइसेमिक गुणों के कारण पंपकिन सीड्स ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है।

पाचन में करे सुधार : पंपकिन सीड्स डाइटरी फाइबर के बेहतरीन स्रोत हैं, जिसके कारण ये गट के माइक्रोबायोम को बचाने के साथ कब्ज से भी राहत दिलाते हैं और पाचन दुरुस्त करते हैं।

इम्यून सिस्टम बूस्ट करे : पंपकिन सीड्स में पॉलीफेनोल, प्री-बायोटिक और ऐसे फैटी एसिड्स होते हैं, जो कि इम्यून सिस्टम को नियंत्रित करते हैं और इसे बूस्ट करते हैं।

प्रॉस्टेट का रखे ख्याल :  पंपकिन सीड्स प्रॉस्टेट कैंसर से बचाव तो करता ही है, साथ ही पंपकिन सीड्स खाने वालों में यूटीआई के लक्षण भी कम पाए जाते हैं।

हार्ट को रखे हेल्दी : फाइबर से भरपूर पंपकिन सीड्स मोटापे से बचाता है और इसमें मौजूद मैग्नीशियम ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखने के साथ ही हार्ट डिजीज के खतरों को कम करता है।

स्पर्म की क्वालिटी सुधारे : पंपकिन सीड्स में मौजूद जिंक टेस्टोस्टेरोन, प्रॉस्टेट और अन्य हार्मोनल असंतुलन को संतुलित रखता है। डाइट में पंपकिन सीड्स शामिल करने से स्पर्म की क्वालिटी में सुधार के साथ इनफर्टिलिटी की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

अच्छी नींद को बढ़ावा देता है : ट्रिपटोफैन से भरपूर पंपकिन सीड्स नींद की क्वालिटी और टाइम दोनों को ही बढ़ाता है। ट्रिपटोफैन एक अमीनो एसिड है, जो सेरोटोनिन और मेलाटोनिन जैसे हार्मोन बनाने के लिए जाना जाता है और ये हार्मोन अच्छी नींद को बढ़ावा देते हैं।

 

 

Related Articles

Back to top button