INDIA
Trending

बड़ी अपडेट,, सिंधिया, मांडविया,,अमित शाह, तीसरे चरण में मोदी सरकार के इन मंत्रियों की किस्मत दांव पर...

Lok Sabha elections 2024, the fate of key ministers is at stake today in the third phase.

तीसरे चरण के मतदान के दौरान कुछ वीआईपी सीटों पर सबकी नजर रहेगी. इनमें गांधीनगर, गुना, धारवाड़, पोरबंदर जैसी सीटें शामिल हैं।

गांधीनगर से अमित शाह मैदान में लोकसभा चुनाव 2024 के तीसरे चरण के लिए मतदान हो रहा है।

थर्ड फेज में 11 राज्यों की 93 सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. हालांकि तय कार्यक्रम के मुताबिक, 94 सीटों पर वोटिंग होनी थी, लेकिन सूरत में बीजेपी के प्रत्याशी के निर्विरोध चुने जाने से वहां मतदान नहीं हो रहा है।

आज (मंगलवार) कुल 17 करोड़ 24 लाख से ज्यादा मतदाता कुल 1331 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. आज हम उन मंत्रियों के नाम जानेंगे, जिनकी किस्मत आज ईवीएम के भीतर कैद हो जाएगी.

अमित शाह, गृह मंत्री (गांधीनगर) : केंद्रीय मंत्री अमित शाह गुजरात की गांधीनगर लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं. अमित शाह के सामने कांग्रेस की सोनल पटेल हैं. अमित शाह यहां से मौजूदा सांसद हैं. 2019 में उन्होंने 69 प्रतिशत मत हासिल किया था।

प्रह्लाद जोशी, संसदीय कार्य मंत्री (धारवाड़) : प्रह्लाद जोशी मोदी कैबिनेट में बड़ा नाम हैं. वह इस बार भी कर्नाटक की धारवाड़ लोकसभा सीट से मैदान में हैं।

2019 में इस सीट पर हुए लोकसभा चुनाव में प्रह्लाद जोशी को 6 लाख 84 हजार 837 वोट मिले थे और कांग्रेस उम्मीदवार विनय कुलकर्णी को 4 लाख 79 हजार 765 वोट मिले थे।

नारायण राणे, MSME मंत्री (रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग) : महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और मोदी सरकार में मंत्री नारायण राणे की सीट पर भी आज ही वोटिंग है।

वह महाराष्ट्र की रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग सीट से ताल ठोक रहे हैं. इससे पहले वह राज्यसभा सांसद थे. इस सीट पर 2009 में नारायण राणे के बड़े बेटे निलेश राणे जीत चुके हैं।

हालांकि 2014 और 2019 में शिवसेना से विनायक रावत यहां से सांसद चुने गए थे. इस बार वह शिवसेना उद्धव ठाकरे गुट से मैदान में हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया, नागरिक उड्डयन मंत्री (गुना) : तीसरे चरण के मतदान में सबसे अहम सीटों में गुना भी है. यहां से ज्योतिरादित्य सिंधिया मैदान में हैं।

भगवंत खूबा, रसायन-उर्वरक राज्यमंत्री (बीदर) : भगवंत खूबा कर्नाटक की बीदर लोकसभा सीट से मैदान में हैं. अभी मोदी सरकार में रसायन उर्वरक राज्यमंत्री हैं।

वह अभी तक राज्यसभा सांसद हैं. 2019 के लोकसभा चुनाव में सिंधिया कांग्रेस के टिकट पर यहां से लड़े थे और उन्हें बीजेपी के केपी यादव ने हरा दिया था. यहां कांग्रेस ने यादवेंद्र सिंह को मैदान में उतार रखा है।

पुरुषोत्तम रुपाला, पशुपालन मंत्री (राजकोट) : पुरुषोत्तम रुपाला पर इस बार सबकी नजर है. इनके एक बयान की वजह से राजपूत वोटर बीजेपी से काफी नाराज हो गए थे. इसे लेकर विरोध भी हुआ था. 2019 के चुनाव में बीजेपी के मोहन कुंडरिया 7,58,645 वोटों से यहां से जीते थे।

श्रीपद नाइक, पर्यटन राज्यमंत्री (नॉर्थ गोवा) : केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग और पर्यटन राज्य मंत्री श्रीपद येस्सो नाइक इस बार भाजपा के टिकट पर उत्तर गोवा से चुनाव लड़ रहे हैं।

उनके सामने कांग्रेस ने रमाकांत खलप हैं. पूर्व लोकसभा सदस्य खलप गोवा के उप-मुख्यमंत्री रह चुके हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में उत्तर गोवा सीट से श्रीपद येस्सो नाइक को जीत मिली थी।

एसपी सिंह बघेल, स्वास्थ्य राज्यमंत्री (आगरा) : एसपी सिंह बघेल अभी मौजूदा मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री हैं. वह आगरा लोकसभा सीट से दूसरी बार मैदान में हैं. इस सीट पर इस बार बीएसपी भी रेस में है और कड़े मुकाबले की उम्मीद है।

देवू सिंह चौहान, संचार राज्यमंत्री (खेड़ा) :  देवू सिंह चौहान मोदी सरकार में संचार मंत्री हैं और इस बार गुजरात की खेड़ा लोकसभा सीट से ताल ठोक रहे हैं।

मनसुख मांडविया, स्वास्थ्य मंत्री (पोरबंदर) : मोदी सरकार के एक और मंत्री मनसुख मांडविया की किस्मत का फैसला आज ईवीएम में कैद होगा।

वह गुजरात की पोरबंदर लोकसभा सीट से मैदान में हैं. मनसुख मांडविया अभी तक गुजरात से राज्यसभा के सांसद थे. इस चुनाव में उनका मुकाबला कांग्रेस के ललितभाई वसोया से है. भाजपा के रमेशभाई लवजीभाई धाडुक 2019 में यहां से जीते थे।

 

 

Related Articles

Back to top button