महाराष्ट्र
Trending

बड़ी खबर,,समोसे में ये सब क्यों भर दिया...? मकसद जानकर माथा पीट लेंगे,,पढिए एक क्लिक में....

Police registered a case after finding objectionable material including condoms, stones in canteen samosas in Pune, one arrested.

महाराष्ट्र :  पुणे में एक कंपनी के कैंटीन के समोसे में कंडोम, पत्थर समेत कई आपत्तिजनक चीजें मिलीं। 

इसके बाद इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया है।

महाराष्ट्र के पुणे से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. यहां पिंपरी-चिंचवड़ में एक प्रतिष्ठित ऑटोमोबाइल कंपनी की कैंटीन में परोसे गए समोसे में कथित तौर पर कंडोम, पत्थर, तंबाकू, गुटखा आदि पाए गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक,, एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. घटना के बाद पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इसमें एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस जांच से पता चला कि एक व्यवसायी ने एक नए ठेकेदार से कैटरिंग का ठेका हासिल करने के लिए इस भयावह कृत्य की योजना बनाई थी।

बताया जा रहा है कि आरोपी रहीम शेख कैंटीन का कॉन्ट्रैक्ट खत्म होने की वजह से नाराज था. कैटलिस्ट सर्विस सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड ऑटोमोबाइल फर्म के अनुसार एसआरएस  एंटरप्राइजेज नाम की कंपनी को समोसे का कॉन्ट्रेक्ट दिया गया था, जब इस कंपनी ने समोसे की सप्लाई दी तो एक दिन बैंडेज निकला. इसके बाद इस कंपनी से कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर लिया गया था।

आखिर क्या है पूरा मामला?

इसके बाद दूसरी कंपनी मनोहर एंटरप्राइजेज को ठेका दे दिया गया. रहीम शेख दूसरी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट देने से भड़क गया, उसने इसके बाद एक साजिश रची, ताकि कंपनी के मालिक से बदला लिया जा सके।

रहीम शेख ने इसके बाद अपने दो कर्मचारियों को मनोहर एंटरप्राइजेज के कैंटीन में भर्ती करवा दिया. इन कर्मचारियों फिरोज शेख और विक्की शेख ने कंडोम, तंबाकू और पत्थर वाले समोसे तैयार किए।

वहीं जब कंपनी के कर्मचारियों ने समोसे खोलकर देखे, तो उनमें आपत्तिजनक चीजें मिलीं. इसके बाद शिकायत दर्ज करवाई गई।

चिखली पुलिस स्टेशन के अधिकारी ने कहा कि हमने सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 328 (जहर के जरिए चोट पहुंचाना) और 120बी (आपराधिक साजिश) के तहत मामला दर्ज किया है।

उन्होंने आगे कहा कि दोनों आरोपी कर्मचारियों ने बताया कि वह एसआरएस एंटरप्राइजेज के कर्मचारी हैं और उनके ओनर ने उन्हें मनोहर एंटरप्राइजेज द्वारा आपूर्ति किए गए भोजन में मिलावट करने के लिए भेजा था।

वहीं रहीम शेख, अजहर शेख और मजहर शेख की पहचान ओनर के रूप में की गई है. पुलिस आगे की जांच में जुटी है।

 

 

Related Articles

Back to top button