उत्तराखण्ड
Trending

मथुरा श्री कृष्ण जन्मभूमि को लेकर मुख्यमंत्री का बड़ा बयान,,जानिए एक क्लिक में...

He said that both the AAP governments came to power by making false promises to the people and now when the time has come to fulfill their promises, they are blaming others.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मथुरा कृष्ण जन्मभूमि को लेकर बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री धामी ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनने के बाद अब मथुरा की बारी है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के हर कार्यकाल में कुछ अलग हुआ है, भाजपा ने राम मंदिर निर्माण और धारा 370 हटाने का अपना वादा पूरा किया है।

धामी ने कहा कि इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी के तीसरे कार्यकाल में कई अन्य बड़ी योजनाओं पर काम होगा, इन योजनाओं को जमीन पर वास्तविक रूप देने का काम किया जाएगा और देश में विकास की गति को और तेज किया जाएगा।

धामी चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी संजय टंडन के लिए प्रचार करने पहुंचे थे और भाजपा प्रदेश कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन के दौरान उन्होंने ये बातें कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कश्मीर से कन्याकुमारी और ‘अटक से कटक’ तक लगभग सभी राज्यों में चुनावी दौरे किए हैं, लेकिन इस बार लोगों में एक अलग तरह का उत्साह दिखाई दे रहा है।

उन्होंने कहा कि इस चुनाव को अपना मानते हुए समाज का प्रत्येक वर्ग मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने को आतुर है।

उन्होंने कहा कि यह लहर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 140 करोड़ लोगों के लिए दिन-रात की गई अथक मेहनत का परिणाम है। यह पिछले कुछ वर्षों में देश में सबसे अच्छी लहर है।

मुख्यमंत्री धामी ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली और पंजाब सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री तक जमानत पर हैं।

उन्होंने कहा कि दोनों आप सरकारें जनता से झूठे वादे कर सत्ता में आईं और अब जब अपने वादों को पूरा करने का समय आया है तो वे दूसरों पर दोषारोपण कर रहे हैं।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भगवंत मान अपने राज्य पंजाब के लोगों से कम और दिल्ली की तिहाड़ जेल में ज्यादा मिलते हैं।

उन्होंने कहा कि पंजाब में नशे का कारोबार बढ़ रहा है। पंजाब के संसाधनों का सही उपयोग नहीं किया जा रहा है।

धामी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी ने 300 सीटें मांगी थीं और जनता ने उनकी अपील को गंभीरता से लेते हुए उन्हें 300 से ज्यादा सीटें दी।

लेकिन इस बार यह सिर्फ एक नारा या अपील नहीं है, बल्कि 400 से ज्यादा सीटें देने का जनता का संकल्प है और ऐतिहासिक नतीजे चंडीगढ़ सीट समेत देश की 400 से ज्यादा सीटों पर दिखाई देंगे।

Related Articles

Back to top button